जब तक तुझे प्यार से
मैं बेइंतेहा मैं भर ना दूं
जब तक मैं दुआऊँ सा
सौ दफ़ा तुझे पढ़ ना लूं

हाँ मेरे पास तुम रहो
जाने की बात ना करो
मेरे साथ तुम रहो
जाने की बात ना करो

वो..

तुम आ गए बाजुओं में मेरे
सौ सवेरे लिए
सौ सवेरे लिए

हाँ बादलों से उतरा गया
तुमको मेरे लिए
सिर्फ मेरे लिए

जब तक मेरी उँगलियाँ
तेरे बालों से कुछ कह ना ले
जब तक तेरी लहर में
ख्वाहिशें मेरी बह ना ले

हाँ मेरे पास तुम रहो
जाने की बात ना करो
मेरे साथ तुम रहो
जाने की बात ना करो

वो..
Correct  |  Mail  |  Print

Jab Tak Lyrics

Armaan Malik – Jab Tak Lyrics

जब तक तुझे प्यार से
मैं बेइंतेहा मैं भर ना दूं
जब तक मैं दुआऊँ सा
सौ दफ़ा तुझे पढ़ ना लूं

हाँ मेरे पास तुम रहो
जाने की बात ना करो
मेरे साथ तुम रहो
जाने की बात ना करो

वो..

तुम आ गए बाजुओं में मेरे
सौ सवेरे लिए
सौ सवेरे लिए

हाँ बादलों से उतरा गया
तुमको मेरे लिए
सिर्फ मेरे लिए

जब तक मेरी उँगलियाँ
तेरे बालों से कुछ कह ना ले
जब तक तेरी लहर में
ख्वाहिशें मेरी बह ना ले

हाँ मेरे पास तुम रहो
जाने की बात ना करो
मेरे साथ तुम रहो
जाने की बात ना करो

वो..